36.2 गेज किसे कहते है, गेज कितने प्रकार के होते है ? What Is Gauge, Types Of Gauge In Hindi

गेज किसे कहते है, गेज क्या होता है और गेज कितने प्रकार के होते है ? What Is Gauge, Types Of Gauge In Hindi

gej-kise-khate-hai-types-of-gauge-in-hindi

3. Ring Gauge

Ring gauge के द्वारा बेलनाकार jobs की बाहरी सतह को शुद्धता के साथ मापा जाता है. Nominal size के रिंग में गेज गोलाकर होता है. जिसमे जाँचे जाने वाले job की माप का ही hole बना होता है. इसकी बाहरी सतह knurled की होती है. यह  ही अलग-2 प्रकार की बेलनाकार मापों को मापने के लिए अलग-2 प्रकार के बने होते है. जो निम्न प्रकार से है.

(i). Plain Ring Gauge
(ii). Taper Ring Gauge
(iii). Thread Ring Gauge
(iv). Form Ring Gauge

4. Caliper Gauge

Caliper gauge, snap gauge के समान होता है. लेकिन इसकी design इस प्रकार होती है की इसके एक छोर से भीतरी माप ( internal dimension) तथा दूसरें छोर से बाहरी माप (external dimension) जाँचा जाता है.

5. Receiving Gauge

इसकी भीतरी माप वाली सतह की design खाश प्रकार तथा साइज के job को जाँचने करे लिए बनी होती है. इसके द्वारा केवल बाहरी माप ही जाँचा जाता है.

6. Center Gauge

इसमें thread cutting करते समय cutting point का कोण जाँचा जाता है, और इसके द्वारा thread काटने के लिए cutting tool को job के रकवायर में set किया जाता है. यह विभिन्न सतह का होता है. इस center gauge पर इंच या मिलिमीटर के चिन्ह अकित रहते है. यह gauge किसी hard steel की लगभग 3 mm मोटी पत्ती द्वारा बनी होती है. जो की hard और tamper की हुई होती है. इनमे विभिन्न मानक screw thread के अनुसार विभिन्न कोणों में जैसे 55°, 60°, 47½ आदि में v groove बने होते है. इसके अतिरिक्त एकमे चुड़ी को जाँचने के लिए भी center gauge में कुछ कट दिए होते है, जो की pitch के आधार पर बने होते है और इस प्रकार सेन्टर गेंज का प्रयोग एकमे thread जाँचने के लिए भी किया जाता है.

7. Drill Point Gauge

इसे drill grinding gauge भी कहा जाता है. Drill को ग्राइंड करते समय उसके लिप्स के कोण की लम्बाई की जाँच के लिए drill grinding gauge अथार्त drill point gauge का प्रयोग किया जाता है.

8. Drill Gauge

इसके द्वारा twist drill का साइज जाँचा जाता है. अधिकतर छोटे साइज के twist drill का size जो उसके shank पर लिखा रहता है. इस प्रकार का साइज जल्दी और आसानी से इसके द्वारा जाँचा जा सकता है. यह एक प्लेट होती है जिसमे विभिन्न मापों के hole बनें होते है. प्रत्येक hole का साइज इंच के भिन्न और दशमलव में अकित रहता है.

9. Feeler Gauge

इसे thickness gauge भी कहा जाता है. इसमें दो parts के बीच के gap को माप जाँची जाती है. यह विभिन्न मोटाई वाली पतली पत्तियों के बने गेजों का set होता है. जो एक होल्डर में screw द्वारा कसा रहता है. प्रत्येक परतो पर उसकी मोटाई की माप लिखी होती है.

10. Radius Gauge

इसका दूसरा नाम फिलेट गेज भी है, इसे उतल गेज भी कहा जाता है. इसे विभिन्न-2 रेडियस वाली उत्तम और अवतल सतहों को जाँचा जाता है. यह भी पत्तियों के बने होते है, या उत्तम व अवतल set होता है. जो feeler gauge के समान ही एक होल्डर में पैच द्वारा कसा जाता है. ये गेज मीट्रिक और ब्रिटिश दोनों साइज में होते है. मीट्रिक पद्धति में यह 0.25 mm के रेज में जैसे 1.5 , 1.75 mm आदि के और ब्रिटिश पद्धति में 1/16 की रेज में जैसे 1/8, 9/64, 5/32 आदि में उपलब्ध होती है. इसे fillet gauge भी कहते है.

11. Screw Pitch Gauge

Screw pitch gauge भी feeler gauge और radius gauge के समान होता है. इसमें एक होल्डर में दोनों किनारों पर अनेक पत्तिया screw के द्वारा कसी रहती है. हर एक पत्ती में उसके एक किनारें पर भिन्न सख्या और गहराई वाले दांते बने होते है. ये दांते विभिन्न प्रकार के standard screw thread के अनुसार बने होते है. प्रत्येक पत्ते पर उसके दातों की सख्या या pitch लिखा रहता है. इसकी बाहरी और भीतरी सतह screw thread का pitch मापा जाता है. इस प्रकार की गेजों में मीट्रिक पिचों की गेजों में 24 पत्तियां होती है. जो की I.S.I चूड़ियों की 0.25 mm से 6.0 mm तक की पिच को जाँचने के लिए प्रयोग की जाती है.

12. Angle Gauge

यह भिन्न-2 डिग्री के बने angle गेजों का set होता है. जो एक होल्डर से पिचों की सहायता से बना होता है. प्रत्येक पत्ती पर उसके प्रयोग कोण को जाँचने के लिए किया जाता है. यह गेज 4 से 3/16 इंच लम्बीं 1 से 1/16 इंच चौड़ी और 9/32 मोटी स्टील की पत्तियों द्वारा बना एक set होता है. इस gauge की प्रत्येक पत्ती पर विभिन्न कोण जैसे 1º, 2º, 3º, 4º, 5º, 8º, 10º, 12º, 14º,15º, 20º, 24½, 25º, 30º, 35º, 45º अलग-2 अकित होता है.

13. Taper Gauge

इस गेज का नाम इसके काम के अनुसार नही बल्क़ि इसके आकार के अनुसार पड़ा है. इससे किसी hole या pipe की चौड़ाई मापी जाती है, और इसके द्वारा out cliper को शुद्ध माप कर set किया जाता है.

14. Wire Gauge

इससे तार और चादर का साइज मापा जाता है. यह स्टील का आयताकार और गोलाकर बना होता है. जिसके किनारें में भिन्न प्रकार के slot कटे होते है. प्रत्येक slot पर नंबर लिखा होता है. जाँच करते समय जितने नंबर वाले slot में तार या चादर fit हो जाता है. उतने नंबर का वह तार या चादर होता है.

15. Limit Gauge

यह gauge अधिकतर तथा न्यूनतम माप जाँचने के लिए प्रयोग की जाती है.

16. Caliper Gauge

यह गेज किसी job की बाहरी माप जाँचने के लिए प्रयोग की जाती है. यह gauge सामान्यता 100 से 400 mm तक के जॉब को जाँचने के लिए बनाई जाती है.

17. Slip Gauge

इसको johnson gauge block भी कहते है, जो की आयताकार आकार में ठोस block होते है. जिससे उच्च श्रेणी के tool steel से बनाया जाता है. इनको hard करके कुछ micron की accuracy में लैपिंग और फिनिस किया होता है. Slip gauge का मुख्य प्रयोग सूक्ष्म मापी यंत्रो और अन्य गेजों की प्रतिशुद्धता को चैक करने अथवा साइन बार को मिट्रीक प्रणाली में एक set के रूप में मिलते है. जो की क्रमश प्राय: 41 या 81 pieces और 45 या 111 pieces होते है.

Comments

Popular posts from this blog

1.1. introduction of Drawing ड्राइंग की परिभाषा पूरी जानकारी हिंदी में

1.2. introduction of Engineering Drawing and instruments इंजीनियरिंग ड्राइंग और उपकरण का परिचय

5.2 Type Of Scales in Engineering Drawing | पैमानों का प्रकार की पूरी जानकारी हिंदी में |