36.1 गेज क्या होता है, गेज किसे कहते है ? What Is Gauge, Types Of Gauge In Hindi

gauge-kise-kahte-hai-types-of-gauges

Introduction: उत्पादन सस्थानो में कई प्रकार के मापने वाले औजार उपयोग किए जाते है. कुछ ऐसे किस्म के मापी औजार उपयोग किए जाते है जिसके द्वारा एक निश्चित माप को बार-बार सही या सुधता से मापा जा सकता है. Gauge के द्वारा कुशल और अर्धकुशल कारीकर भी माप ले सकता है. जबकि अशिक्षित कारीगर माइक्रोमीटर तथा वर्नियर जैसे सूक्ष्म मापी यंत्र से माप नही ले सकता है. विभिन्न उत्पादन सस्थानों में अलग-2 किस्म का उत्पादन किया जाता है.

Design Of Gauges

Design की आकृति अथवा design कार्य के अनुसार बनाई जाती है. जिससे हम अलग-2 प्रकार से बनाकर किसी वस्तु की लम्बाई,चौड़ाई, कोण या तिरछापन आदि को आसानी के साथ कम समय में माप सकते है. साधारण प्रकार की गेज साधारण धातुओं की बनाई जाती है. किन्तु जिन गेजों का उपयोग अधिक किया जाता है वह ऐसी धातु की बनाई जाती है. जिससे वह कम घिस कर शुद्धता से लम्बें समय तक प्रयोग की जा सकें. यह धातु में आमतौर पर क्रोमियम स्टील या वैनेडियम स्टील प्रयोग की जाती है.

Advantages Of Gauges ( Gauges के लाभ )

1. इसके द्वारा कम समय में अधिक से अधिक वस्तुओं की माप ली जा सकती है. जिस कारण श्रम तथा समय की बचत होती है.
2. Gauge द्वारा मापे गए पुर्जो में अंत बदल गुण प्राप्त मात्रा में पाया जाया है. इस कारण यह एक-दुसरे पर आसानी से जोड़ी जा सकती है.
3. अर्धकुशल कारीकर भी कार्य कर सकता है.
4. Job कम खराब होती है.
5. Job को आसानी से जाँचा जा सकता है.
6. Job tolerance माप के अंतर्गत बनाए जाते है.
7. उत्पादन अधिक होता है जिसके कारण वस्तुओं की लागत कम आती है.

Types Of Gauges

विभिन्न ओधौगिक क्षेत्र में अलग-2 कार्यो के लिए अलग-2 प्रकार के गेजों का उपयोग किया जाता है. इस प्रकार काम और शकल के अनुसार गेज कई प्रकार के होते है. किन्तु प्रत्येक गेज को शुद्धता से मापने, बनावट और काम के अनुसार निम्न तीन वर्गों में बाटा गया है.

According To The Accuracy (शुद्धता के अनुसार)

1. Working Gauges
2. Inspection Gauges
3. Master Gauges

1. Working Gauges

यह कारीगर के द्वारा parts को बनाते समय मापने के लिए प्रयोग की जाती है.

2. Inspection Gauges

यह गेज तैयार किए गए parts को जाचने के लिए उपयोग किया जाता है. Working gauges और Inspection gauges को विशेष limit पद्धति को प्रयोग करके बनाया जाता है.

3. Master Gauges

यह जांचें गए parts की शक्ल का होता है. इसके द्वारा उपर्युक्त दिए गए दोनों गेजों की शुद्धता मापी जाती है. यह सबसे अधिक शुद्धता के साथ parts को मापने के लिए उपयोग किया जाता है.

According To The Construction (निर्माण के अनुसार)

1. Fix Gauges
2. Adjustable Gauges

1. Fix Gauges

यह gauge आंतरिक और बाहरी दोनों प्रकार की बनाई जाती है. यह केवल उसी साइज के jobs को जाँचती है जिसके साइज के अनुसार इन्हें बनाया गया होता है. अथवा यह fix size को जाँचने के लिए प्रयोग की जाती है. इसे limit gauge भी कह सकते है.

2. Adjustable Gauges

यह अधिकतर बाहरी माप लेने के लिए प्रयोग की जाती है. तथा इसे adjust करके वास्तविक माप से अधिक या कम पर आवश्यकतानुसार set किया जाता है.

According To The Works (कार्य के अनुसार)

विभिन्न कार्यो के लिए विभिन्न किस्मों के gauge parts को मापने के लिए उपयोग किए जाते है जो निम्नलिखित है.
(A). Snap Gauges
(B). Plug Gauges

(A). Snap Gauges

Snap gauges के द्वारा किसी गोल किश्म के parts का diameter और चौड़े parts की लम्बाई, चौड़ाई तथा मौटाई जाँची जाती है, और यह दो प्रकार के होते है.

(i). Solid Snap Gauges
(ii). Adjustable Snap Gauges

(i). Solid Snap Gauges

यह English के C अक्षर के आकार का होता है. दोनों सिरों पर चित्रानुसार flate सतह बनी होती है. यह सतह ग्राइंड करके शुद्ध बनाई जाती है. यह gauges दो छोर वाला भी होता है, और इसके अलग-2 सिरे से अलग-2 माप लिया जाता है.

(ii). Adjustable Snap Gauges

यह भी solid snap gauges की भांति C अक्षर के आकार का होता है. लेकिन माप लेने वाली सतह पर इसमें चार गोलाकर Anvil frame के छेद में fit रहते है. Anvil का चौड़ा किनारा इसकी माप सतह होती है. Screw को set करके इसके द्वारा माप लिया जाता है. इसके anvilo को आवश्यकतानुसार माप पर set करने के लिए 5 या 6 mm तक adjust किया जा सकता है.

(B). Plug Gauge

Plug gauge का प्रयोग diameter को मापने के लिए किया जाता है. विभिन प्रकार के hole को मापने के लिए अलग-2 प्रकार के गेज उपयोग किए जाते है. जैसे Cylindrical plug gauge, taper plug gauge, thread plug gauge, रकवायर प्लग गेज को गोलाकर होल, taper hole, चूड़ीदार होल तथा वर्गाकार hole का माप मापने के लिए प्रयोग किया जाता है. इस प्रकार यह एक प्रकार का limit gauge भी होता है. जो की एक ही साइज के बने होल या भीतरी माप को जाँचने के लिए उपयोग किया जाता है. इस गेज का एक सिरा Go और दूसरा सिरा Not Go साइज का होता है. Go सिरा not go सिरे से कुछ लंबा होता है, जो low limit तथा high limit में बना होता है.

Comments

Popular posts from this blog

1.1. introduction of Drawing ड्राइंग की परिभाषा पूरी जानकारी हिंदी में

1.2. introduction of Engineering Drawing and instruments इंजीनियरिंग ड्राइंग और उपकरण का परिचय

5.2 Type Of Scales in Engineering Drawing | पैमानों का प्रकार की पूरी जानकारी हिंदी में |