28.2 What Is Anti Friction Bearing In Hindi, Type Of Anti-Friction Bearing

what-is-Anti-Friction-Bearing-In-Hindi

What is Anti Friction Bearing

आपको बता दे की इस bearing में घर्षण कम होता है क्योकि इस bearing में point जुड़े होते है. जिसके कारण यह bearing थोड़ी गति मिलने से ज्यादा गति पर घुमने लगते है. इसलिए यह bearing high speed के लिए ( car, jeep. moter cycle etc) आदि के लिए प्रयोग किया जाता है. जिसके कारण surface contact कम होता है, केवल point contact होता है. Ball roller के surface grinder लेने के कारण गति बढ़ जाती है. जिसके कारण घर्षण और गर्मी कम हो जाती है. इस बेरिंग को लम्बें समय तक प्रयोग किया जा सकता है. इस bearing को हल्की गति देने के कारण यह free घुम जाता है. यह बेरिंग cast iron chromium व nickel के बनाए जाते है, व trample तथा grinde किए जाते है. Construction के हिसाब से इस बेरिंग को चार भागों में बाटा गया है.

1. Outer Or Inner Ring
2. Outer Or Inner Races
3. Cage
4. Running Element

1. Outer Or Inner Ring

यह bearing nickle, chromium steel के बनाए जाते है. इस bearing में घुमने वाली ball के लिए races बनी होती है. Outer ring bearing के houses बने होते है. तथा inner ring को shaft पर फिट किया जाता है. Outer व inner ring के बीच में ball को fit किया जाता है.

2. Outer Or Inner Races

Outer or Inner ring में groove या slots कटे होते है. Outer ring में slote inside व inner ring में slote outer side कटे होते है. इन्ही slots में ball व roller fit किए जाते है. जब shaft घुमती है तो inner races भी घुमती है पर outer races नही घुमती है.

3. Cage ( जाली )

Bearing में घुमने वाले bar व roller को एक जाली में रखा जाता है. यह जाली ball व roller को एक समान दुरी पर रखती है तथा  हिलने नही देती है. यह brass व gun metal की बनी होती है.

4. Running Element

घर्षण को कम करने के लिए और गति को बढ़ाने के लिए ball और roller प्रयोग किए जाते है. Bearing में यह Runnig element nickle, chromium steel के बने होते है. Surface contact को कम करने के लिए ball व roller का use किया जाता है. Running elemnet के अनुसार anti friction bearing कई प्रकार के होते है.

1. Ball Bearing
2. Roller Bearing
3. Hanger Bearing
4. Wall Bracket Bearing

1. Ball Bearing

इस bearing में brass, nickle, chromium steel की बनी हुई समान माप की round ball inner व outer ring की races में समान दुरी पर घुमती है. इस बेरिंग में ball व roller होने के कारण area of contact कम हो जाता है. Ball व roller bearing तेज चलने वाली मशीन जैसे इलेक्ट्रिक मोटर, ऑटोमोबाइल इजन में प्रयोग किए जाते है. यह bearing weight व गति के अनुसार दो प्रकार के होते है.

(A). Single Row Ball Bearing
(B). Double Row Ball Bearing

(A). Single Row Ball Bearing

इस प्रकार के bearing में outer व inner ring में एक ही groove में कटा होता है, तथा ball एक ही row में होती है. यह बेरिंग तेज गति के लिए प्रयोग किया जाता है.

(B). Double Row Ball Bearing

इस प्रकार के bearing में outer व inner ring में दो ही groove में कटे होते है, व ball की दो row होती है. Ball को सही set करने के लिए जाली का प्रयोग किया जाता है. जली के कारण ही ball आपस में नही मिलती है.

2. Roller Bearing

इस बेरिंग में round roller जाली में fit करके outer और inner ring के रास्ते में लगे होते है. यह बेरिंग अधिक गति heavy load के लिए use किया जाता है. यह बेरिंग भी load के अनुसार double row बनाकर use किए जाते है.

3. Hanger Bearing

यह bearing hanger shape में cast iron का बनाया जाता है. इसमें भी bearing bush को set करने के लिए house बना होता है. यह center shaft को सहारा देने के लिए use किया जाता है. Hanger bearing प्राय: room की छत से shaft को सहारा देने के लिए use किया जाता है. Hanger प्राय:  U व J shape में बना होता है.

4. Wall Bracket Bearing

Wall bracket bearing का उपयोग उस shaft के लिए किया जाता है. जो दीवार के नजदीक व समान्तर होती है. इस बेरिंग को wall bracket के साथ nut व bolt को tight कर देते है. Wall bracket इलेक्ट्रिक power transmit करने के लिए उपयोग की जाती है.

Method Of Prevention Of Rotation Of Brass - Brass को घुमने से रोकने के लिए क्या उपाय है.

Brass की ratation को रोकने के लिए snug और set screw का use किया जाता है. Snug और set screw को half body में और half brass में बने hole में फिट किया जाता है. Brass की ratation को रोकने के लिए निम्नलिखित विधि है.

1. By A Grub Screw
2. By A Snug At The Bottom
3. By A Snug At Side
4. By A Snug At The Top Fitting
5. In Side The Cap The Oil Holes Drilled Through The Snug

What Is Snug

Snug एक धातु का टुकड़ा होता है जो brass को घुमने से रोकने के लिए प्रयोग किया जाता है. जो half body और half brass में फिट किया जाता है.

Difference Between Bush And Brass

Bush और brass दोनों ही bearing body और shaft को घिसने से बचाने के लिए उपयोग किए जाते है, और दोनों को घिसने के बाद आसानी से बदल दिया जाता है. यह दोनों निम्नलिखित पॉइंट के आधार पर एक-दुसरे से भिन्न है.

Bush
1. Bush की shape cylindrical होती है.
2. Bush एक cylindrical pices होता है.
3. Bearing body में से bush को निकालते समय पूरी बेरिंग body को नही खोलना पड़ता है.
4. Bush gun metal और mild steel के बने होते है.

Brass
1. Brass की shape तीन प्रकार की होती है जैसे cylindrical, rectangular और octangular
2. Brass हमेशा दो pices में होता है, और दोनों pices को मिलाने पर पूरा bush बनता है.
3. Brass को निकालते समय पूरी बेरिंग body को खोलना पड़ता है.
4. Brass hard gen metal के बने होते है.

Difference Between Frictional And Anti Frictional Bearing

Frictional Bearing
1. Frictional bearing में surface contect अधिक होने के कारण घर्षण अधिक होता है.
2. इस bearing में surface contect पाया जाता है.
3. Frictional bearing में घर्षण अधिक होने के कारण बेरिंग जल्दी घिस जाते है.
4. इस बेरिंग में लुब्रीकेंट्स की अधिक आवश्यकता होती है.
5. यह बेरिंग कम गति के लिए use किया जाता है.
6. Frictional bearing slow speed पर चलने के कारण power ज्यादा खर्च होती है.
7. यह bearing pices या halves में मिलते है.

Anti Frictional Bearing
1. Anti frictional bearing में surface contect कम होने के कारण घर्षण कम होता है.
2. Anti frictional bearing में भी surface contect पाया जाता है.
3. Anti frictional bearing में घर्षण कम होने के कारण bearing कम घिसते है.
4. इस बेरिंग में लुब्रीकेंट्स की कम जरूरत पड़ती है.
5. यह bearing high speed के लिए use किया जाता है.
6. Anti frictional bearing अधिक गति पर चलने के कारण power कम खर्च होती है.
7. यह bearing pices या halves में उपयोग नही किए जाते है.

Addventage Of Anti Frictional Bearing Over Frictional Bearing - Frictional bearing की बजाय anti frictional bearing के क्या-2 लाभ है.


(i). इस bearing में point contect होता है.
(ii).घर्षण कम होने के कारण bearing कम घिसते है. बेरिंग में shaft आसानी से घूम जाती है.
(iii).Anti frictional bearing में लुब्रीकेंट्स की कम जरूरत पड़ती है.
(iv). Anti frictional bearing तेज गति के लिए use किए जाते है.
(v).Anti frictional bearing high speed पर चलने के कारण power कम खर्च होती है.
(vi).Anti frictional bearing pices या halves में उपयोग नही किए जाते है.

Why Made Brass In Two Pices Or Halves

Bearing के अंदर gun metal का बना हुआ brass उपयोग किया जाता है. Brass दो pices में बना होता है. दो pices में इसलिए use किए जाते है की brass gun metal का बनाया जाता है. क्योकि gun metal कम घिसता है. Brass के अंदर जब shaft घुमती है तो कुछ समय बाद brass की shape अंडाकार बन जाती है. जिसके कारण shaft समान गति से नही घुमती है. उस समय brass को आसानी से बदल सकते है.

Post a Comment

0 Comments