Recents in Beach

12. Intersection Of Surfaces And Interpenetration Of Solids in Hindi

Intersection-Of-Surfaces-And-Interpenetration-Of-Solids-in-Hindi
Intersection Of Surfaces And Interpenetration Of Solids
Introduction : जब किन्ही दो ठोसो की सतहों अथवा तल एक दूसरे को काटते है तो इसे ठोसो का प्रतिच्छेदन अथवा intersection of solid कहते है. किन्तु जब एक ठोस दूसरे ठोस को काटते हुए अथवा एक ठोस की सतह दूसरे ठोस की सतह के सम्पर्क में आकर प्रवेश करती है इसे ठोसो का प्रतिप्रवेशन अथवा interpenetration of solid कहते है. किन्ही दो ठोसो की आपस में मिलने वाली सतहों पर ठोसो के प्रतिच्छेदन अथवा प्रतिप्रवेशन के कारण एक वक्र अथवा straight line बनती है. जिससे क्रमश प्रतिच्छेदन वक्र प्रतिच्छेदन रेखा कहते है. यह रेखाए दो मिलने वाली ठोसो की बनावट पर निर्भर करती है यदि दोनों ठोसो को आपस में मिलाने वाली सतहों की बनावट गोलाकार होती है. जबकी दो समतल जैसे वर्गाकार या आयताकार आदि ठोसो की सतहों की बनावट के अनुसार इनकी आपस में मिलने वाली सतहों से सरल प्रतिच्छेदन रेखा बनती है. इस प्रकार drawing में विभिन्न प्रकार की ठोसो की विभिन मिलने वाली सतहों के अनुसार इनकी मिलने वाली सतहों को interpenetration या intersection रेखाओ द्वारा प्रदर्शित किया जाता है.

Intersection Of Surfaces And Interpenetration Of Solids क्या है ? Type Of Intersection Of Solids ?

Type Of Intersection Surface : Intersection सतह को विभिन प्रकार से वर्गीकृत किया जाता है.

1. Intersection Of Two Plane Surface
2. Intersection Of Two Cylindrical Surfacing
3. Intersection Of Cylinder Plane Surfacing

1. Intersection Of Two Plane Surface

इस तरह के प्रतिच्छेदन या प्रतीवेशन में दोनों solid की सतह समतल होती है. जैसे prism,pyramid इत्यादि सतह समतल होती है.

2. Intersection Of Two Cylindrical Surfacing

इस तरह के प्रतिच्छेदन या प्रतीवेशन में दोनों solid की सतह गोलाकार होती है. जैसे cylinder या cone इत्यादि.

3. Intersection Of Cylinder Plane Surfacing 

इस तरह के प्रतिच्छेदन या प्रतीवेशन में दोनों की सतहों की बनावट अलग-2 होती है. solid गोलाकार सतह से त्तथा दूसरे समतल बना होता है. जैसे prism and cylinder आदि.

Method Of Obtaining Section Of Center Surface
किन्ही दो ठोसो के मिलाने को प्रतिच्छेदन या प्रतीवेशन रेखा अथवा वक्र की निमंलिखित दो विधियों है जो इस प्रकार है.

1. Line Method
2. Cutting Plane Method

1. Line Method 

इस विधि के अंतर्गत ठोसो के lateral surface पर और intersection line के क्षेत्रीय भाग में कुछ सख्या में रेखाए खिची जाती है. अथवा दूसरे शब्दों में कहा जा सकता है की ठोसो के side view को कुछ भागो में आवस्यकतानुसार विभाजित करके रेखाए खीची जाती है. इसके बाद ठोसो के दृस्य में intersection करने वाले बिदुओ को अकित किया जाता है और अनंत में सम्वधित दृश्य में प्राप्त इन बिन्दुओ को यदि मिला दिया जाए तो इस प्रकार जो रेखा अथवा वक्र रेखा प्राप्त होगी | वह प्रतिच्छेदन की रेखा कहलाती है.

2. Cutting Plane Method

इस विधि के अंतर्गत जब दो ठोसो की surface आपस में सपर्क में आती है अथवा एक दूसरे का intersection करती है तो interpenetration और intersection रेखा या वक्र को निश्चित करने के लिए cutting plane का प्रयोग किया जाता है. जिससे दी गई सतहों को या तो straight line और या फिर circle में काटा जाता है. cutting plane के द्वारा ठोसो की surface को सीधी रेखा में करकर cutting plane method द्वारा इनकी interpenetration वक्राकार रेखा खिची जाती है. 

Post a Comment

0 Comments